NEWS FLASH मराठा आरक्षण आंदोलन में नांदेड जिले का २४ लाख २५ हजार का हुवा नुकसान, आंदोलन में द्वेषभावना से कार्यरत आदोलंकारियो को ढुंढाने का काम सुरू - नांदेड पुलिस अधीक्षक संजय जाधव ..., **

सोमवार, २५ डिसेंबर, २०१७

निजी बिजलीबिल भुगतान केंद्रबंद होने के बाद ग्राहक परेशान

हिमायतनगर (नृसिंह न्यूज नेटवर्क) शहर में निजी बिजली केंद्रों के बंद होने के कारण बिजली के बिलों के भुगतान के लिए बिजली ग्राहकों को बड़ी असुविधा का सामना करना पड़ता है। इसी में उप-डिवीजनल कार्यालय के बिल लेनेवाले प्रिंटर में लगातार दिक्कत निर्माण होनेके कारण बिजली ग्राहक कतार में खडे होकर परेशान हो रहे है/ इस बात को ध्यान में लेकर शहर में तुरंत शहर में निजी बिजली केंद्रों की शुरूआत करने की मांग ग्राहक द्वारा हो रही है।

पिछले कुछ महीनों हिमायतनगर की महावितरण कंपनी द्वारा ग्राहक कि सुविधा के लिए शुरु किया गया बिजली बिल भुगतान केंद्र बंद कर दिया गया है। इसलिए ग्राहक को उप-डिवीजनल ऑफिस में विजबिल भुगतान केंद्र में जाकर कतारें बनाकर खडे होणे कि नौबत आई हैं। इस बीच, भुगतान केंद्र निर्धारित समय के समय शुरू नहीं होने से नागरिक को काम - धाम छोड़कर खडे रहणें कि नौबत आई है। बहुत से लोग यहां पर लाईन में खडे होते है किंतु खिड़की पर जाने पर प्रिंटर में तकनीकी दोष निर्माण होणे से बिजली ग्राहक को अगले दिन कतार में खड़े रहना पड रहा हैं। महावितरण कंपनी की लापरवाही  के कारण ग्राहकों को बहुत ज्यादा परेशान होणे कि नौबत आई है, कारणवश बील भुगतान कि तारीख चलीजाणे के बाद दंड का भुगतान बिल के साथ करणा पड़ता है। विज वितरण कंपनी के अधिकारियों ने कार्यालय में १०.३० बजे तक उपस्थित होकर बिल भुगतान केंद्र शुरु करना आवश्यक है। 

बिल का भुगतान की खातीर मजदूर अपनी मजदूर छोडकर करत में खडे रहणें के बावजुद भी दो - तीन दिन नंबर में लगणे के बाद भी परेशान होकर वापीस जाना पड रहा है/ महावितरण जिस प्रकार लाउडस्पीकर और बैनर और हैंडबिल द्वारा बिल भरणे का अनुरोध करती है, साथ हि भुगतान के लिये देर होनेपर बिजली काट देती है/ उसी प्रकार शहर में, व्यापारियों, कर्मचारियों, श्रमिकों कि परेशान दूर करणे कि खातीर ग्राहकों के घरपर जाकर बिजली बिल लेणे कि मांग भी ग्राहक कर रहे है/ साथहि बिल भुगतान के लिये हो रही परेशान दूर करणे के लिये तुरंत शहर के निजी बिजली बिल भुगतान केंद्र शुरु कारवाने कि मांग भी हो रही है। इस संबंध में महावितरण के उप कार्यकारी अभियंता अरविंद कटकर से संपर्क करने पर उन्होने कहा कि,  कंपनी ने निजी केंद्र बंद कर दिए हैं, क्योंकि निजी ठेकेदार ने डिपॉजिट कि राशी जमा नहीं कारवाई। जल्द ही, नए बिजली का ठेका अन्य व्यक्ती को देकर जल्द ही निजी बिल भुगतान केंद्र शुरू हो जाएंगे। उस समय तक, ग्राहको ने महावितरण को सहयोग दे ऐसी अपील भी उन्होने ग्राहकों से की।
टिप्पणी पोस्ट करा